Skip to main content

RSCIT Chapter 1: Computer Kya He in Hindi

RSCIT Chapter 1 – कम्प्यूटर का परिचय (Introduction to Computer) के इस अध्याय में हम जानेंगे कम्प्यूटर के परिचय से संबंधित सारी जानकारी, जिसमें कि कम्प्यूटर क्या हैं, कम्प्यूटर का वर्गीकरण व विशेषताएं, कम्प्यूटर के महत्वपूर्ण घटक तथा कुछ अन्य जानकारी शामिल हैं।

ध्यान दीजियेगा यहां पर आपको किताब से छापकर पाठ नहीं दिया गया हैं बल्कि सरल भाषा में नोट्स के रूप में समझाया गया है जिससे कि विद्यार्थी को पढ़ने और समझने में आसानी हो। अगर आप RSCIT की परिक्षा में अच्छे नम्बर से पास होना चाहते हैं तो आप RSCIT Chapter 1 से लेकर 16 तथा RSCIT संक्षिप्त शब्दों (Acronyms) को एक बार अच्छे से पढ़ लिजिए।

कम्प्यूटर क्या है (What is Computer)

कंप्यूटर एक मशीन है, जिसका उपयोग लगभग हमारे जीवन के सभी क्षेत्रों में किया जा रहा हैं। पर्सनल कम्प्यूटर गणना, डिजाइन और प्रकाशन प्रयोजनों के लिए छात्रों, इंजीनियरों तथा लेखकों द्वारा इस्तेमाल किया जाता हैं।

कम्प्यूटर का वर्गीकरण (Classification of Computer)

  • उद्देश्य
  • डाटा संभालने की क्षमता
  • कार्य क्षमता
  • आकार
  • भंडारण क्षमता
  • प्रदर्शन आदि।

कंप्यूटर के प्रकार (Types of Computer)

कम्प्यूटर बड़े कमरे की साइज में बहुत बड़ा और एक लेपटॉप, मोबाइल, टेबलेट अथवा माइक्रो नियंत्रक के रूप में बहुत छोटा हो सकता है। कम्प्यूटर मुख्यतया चार प्रकार के होते हैं ~ सुपर कम्प्यूटर, मैनफ्रेम कम्प्यूटर, मिनी कम्प्यूटर और माइक्रो कम्प्यूटर।

सुपर कंप्यूटर (Super Computer)

यह कंप्यूटर डेटा की भंडारण क्षमता, प्रदर्शन और डाटा प्रोसेसिंग के मामले में सबसे शक्तिशाली कम्प्यूटर होते हैं। यह बहुत ही खास कंप्यूटर्स होते हैं, जो बड़ी खोज और वैज्ञानिक उपयोग के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं। पहला कंप्यूटर 1964 में बनाया गया था जिसका नाम “CDC 6600” था। कुछ प्रसिद्ध सुपर कंप्यूटर ~

सुपर कंप्यूटर के उपयोग
  • मौसम की भविष्यवाणी
  • भूकंप की जानकारी
  • प्राकृतिक गैस, पेट्रोलियम, कोयला जैसे संसाधनों की खोज
  • संचार
  • हथियारों के परीक्षण
  • नाभिकीय हथियारों के प्रभाव को जानने आदि।

मैनफ्रेम कंप्यूटर (Mainframe Computer)

यह कंप्यूटर्स काफी महंगे होते हैं तथा इनका इस्तेमाल सरकारी संस्थाओं, बड़ी बिजनेस फर्म्स में या बिजनेस ऑपरेशन में किया जाता है। यह कंप्यूटर बड़े कमरे में रखे जाते हैं, जहां उचित शीतलन तथा अन्य सुविधाएं उपलब्ध होती है। कुछ प्रसिद्ध मैनफ्रेम कंप्यूटर ~

  • Fujitsu’s ICL VME
  • Hitachi’s Z800

मिनी कंप्यूटर (Mini Computer)

यह कंप्यूटर छोटे व्यापार में उपयोग में लिए जाते हैं। जैसे; बड़ी या मध्यम वर्ग की कंपनी, प्रोडक्शन हाउस में आदि। कुछ प्रसिद्ध मिनी कंप्यूटर ~

  • K-202
  • Texas Instrument Ti-990
  • SDS-92

माइक्रो कंप्यूटर (Micro Computer)

डेस्कटॉप कंप्यूटर, लैपटॉप, मोबाइल, टेबलेट आदि माइक्रो कंप्यूटर के अंतर्गत आते हैं। यह काफी सस्ते होते हैं तथा इनका उपयोग संचार, शिक्षा, मनोरंजन, ऑफिस कार्य के लिए किया जाता है।

कंप्यूटर की विशेषताएं

  • गति (Speed)
  • शुद्धता (Accuracy)
  • उच्च संचयन क्षमता (High Storage Capacity)
  • विविधता (Diversity)
  • परिश्रम शीलता (Diligence)

कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर (Computer Software)

कम्प्यूटर में की जाने वाली सभी प्रक्रियाएं सॉफ्टवेयर की मदद से की जाती है। सॉफ्टवेयर प्रोग्रामों का संग्रह होता है, जो किसी विशेष प्रयोजन के लिए लिखा गया है तथा प्रोग्राम निर्देशों का समूह होता हैं।
सॉफ्टवेयर दो प्रकार के होते हैं ~

सिस्टम सॉफ्टवेयर (System Software)

सिस्टम सॉफ्टवेयर उपयोगकर्ता से जानकारी का आदान-प्रदान करता है, तथा एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर के साथ मिलकर काम करता है। सिस्टम सॉफ्टवेयर कई प्रोग्रामों का संग्रह होता है; ऑपरेटिंग सिस्टम, यूटिलिटीज, डिवाइस ड्राइवर, सर्वर आदि।

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर (Application Software)

ऐसे सॉफ्टवेयर जो विशेष रूप से उपयोगकर्ता के लिए बनाएं जाते हैं इन्हें End User प्रोग्राम भी कहते हैं। जैसे – डेटाबेस प्रोग्राम, एक्सल शीट्स, वेब ब्राउजर आदि।

कम्प्यूटर हार्डवेयर (Computer Hardware)

कंप्यूटर सिस्टम की ऐसी चीजें जिनको हम छूकर महसूस कर सकते हैं, हार्डवेयर के अंतर्गत आती है। जैसे – मॉनिटर, प्रिंटर, माउस, CPU, हार्ड डिस्क आदि।

कम्प्यूटर हार्डवेयर के प्रकार
  • इनपुट डिवाइस
  • आउटपुट डिवाइस
  • प्रोसेसिंग डिवाइस
  • स्टोरेज डिवाइस

कंप्यूटर के उपयोग

  • Education
  • Medicine
  • Scientific Research
  • Governance
  • Transportation
  • Railways
  • Roadways
  • Communication
  • Business
  • Entertainment
  • Home
  • Hospital आदि।
घरों में कंप्यूटर का उपयोग
  • स्कूली बच्चों के होमवर्क
  • दस्तावेज बनाने
  • पावरप्वाइंट
  • मनोरंजन (फिल्म, वीडियो, संगीत, गेम)
  • सामाजिक मीडिया
  • ज्ञान (Online Books and Tutorials) आदि।
शिक्षा के क्षेत्र में कंप्यूटर का उपयोग
  • स्मार्ट क्लास (Video, Animation)
  • शिक्षक व छात्रों के प्रदर्शन को ट्रैक करना
  • ऑनलाइन शिक्षा (Online Degree)
  • डिजिटल लाइब्रेरी (E-Books, Articles)
  • प्रोजेक्ट/रिसर्च आदि।
व्यवसायिक क्षेत्र में कंप्यूटर का उपयोग
  • कार्यालय दक्षता एवं उत्पादकता
  • संचार (E-Mail)
  • वीडियो मीटिंग
  • सेल्स एंड मार्केटिंग
  • विज्ञापन
  • डिजिटल मार्केटिंग
  • Affiliate Marketing
  • Email Marketing
  • Search Marketing
  • Social Media Marketing
  • Social Networking
  • Game Advertisement
  • Video Advertisement
  • Finance and HR
  • शिक्षा और प्रशिक्षण (E-learning) आदि।

उम्मीद है कि आपको RSCIT Chapter 1 अच्छे से समझ आ गया होगा और आपने अच्छे से याद भी कर लिया होगा, इसी तरह अन्य RSCIT Chapters के भी नोट्स आपको हमारी वेबसाइट पर मिल जाएंगे। नीचे दिए बटन पर क्लिक करके उनको भी जरूर देखें।

Comments

Popular posts from this blog

Hindi 301 Book PDF for RSOS and NIOS Students

RSOS Hindi Book अगर आप राजस्थान स्टेट ओपन बोर्ड के विद्यार्थी हैं, तो आप बिल्कुल सही जगह पर है। आज मैं आपके लिए राजस्थान स्टेट ओपन बोर्ड की कक्षा 12 की हिन्दी किताब की PDF लेकर आया हूं, जिससे अगर आपके पास किताब नहीं है तो भी आप अपनी परिक्षाओं की तैयारी कर पाएंगे। हालांकि ये किताब तो NIOS बोर्ड की है, लेकिन आपके बहुत काम की है, क्योंकि जहां तक मैं जानता हूं NIOS और RSOS की किताबों में 80% समानता होती हैं क्योंकि मैंने दोनों बोर्ड की किताबें देख रखी है। इंटरनेट पर RSOS की अलग से किताब उपलब्ध नहीं होने के कारण मैं आपको NIOS की किताब उपलब्ध करा रहा हूं। लेकिन आप बेफिक्र रहिए आपको किसी भी तरह की समस्या नहीं आएगी। NIOS Hindi Book ये जो किताब मैं आपको नीचे उपलब्ध करा रहा हूं यह किताब स्पेशियली NIOS के विद्यार्थियों के लिए है, तो आप नीचे दिए गए डाउनलोड बटन पर क्लिक करके फ्री में बुक डाउनलोड कर सकते हैं। Hindi Book Download

Rajasthan State Open School Hindi (301) Model Paper Download

RSOS Hindi Model Paper प्रश्न 1.  (क) निम्नलिखित काव्यांश की  सप्रसंग व्याख्या कीजिए ‌: नरहरि ! चंचल है मति मेरी, कैसे भगति करूँ मैं तेरी ।। तूं मोंहि देखै, हौं तोहि देखूँ , प्रीति परस्पर होई । तूं मोहि देखै, तोहि न देखूँ , यह मति सब बुधि खोई । सब घट अंतर रमसि निरंतर, मैं देखन नहिं जाना । गुन सब तोर, मोर सब औगुन, क त उपकार न माना ।। मैं, तें तोरि - मोरि असमझि सौं, कैसे करि निस्तारा ।  कह रैदास कृष्ण करुणामय । जै जै जगत-अधारा ।।                        अथवा छोड़ो मत अपनी आन, सीस कट जाये, मत झुको अनय पर, भले व्योम फट जाये। दो बार नहीं यमराज कण्ठ धरता है, मरता है जो, एक ही बार मरता है। तुम स्वयं मरण के मुख पर चरण धरो रे! जीना हो तो मरने से नहीं डरो रे! (ख) निम्नलिखित काव्य-पंक्तियों का काव्य-सौंदर्य स्पष्ट कीजिए :  कनक कनक तैं सौगुनी, मादकता अधिकाय। वा खाएँ बौरात है, या पाएँ बौराय।। प्रश्न 2. निम्नलिखित में से किन्हीं दो प्रश्नों के उत्तर लगभग 35-35 शब्दों में दीजिए : (क) बिहारी के दोहे के आधार पर ग्रीष्म की विशेषता का वर्णन कीजिए। (ख) "नरहरि चंचल है गति मेरी" पद में रैदास ने अप

JNVU Remaining Exams New Time Table July 2020

JNVU Time Table जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय जोधपुर के विद्यार्थियों के लिए JNVU ने नया टाईम टेबल जारी कर दिया है, जिन विद्यार्थियों की परिक्षाएं शैष बची हुई थी, ये उन विद्यार्थियों का टाइम टेबल है।  बाकि जिन विद्यार्थियों को जनरल प्रमोशन मिला है वो ज्यों का त्यों रहेगा और उन्हें बिना परीक्षा पास कर दिया जाऐगा। M.A. Final Time Table M.Sc. Final Time Table M.Com. Final Time Table B.Com. (Honoures) Time Table B.Com. (Honours) Business Time Table B.Com. Final Time Table